ससुरालियों के उत्पीड़न का शिकार हुई बहन को इंसाफ दिलाने अनशन पर बैठा भाई

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

हल्द्वानी में ससुरालियों के उत्पीड़न का शिकार हुई एक बहन को इंसाफ दिलाने के लिए भाई अपने घर में ही पिछले 6 दिन से आमरण अनशन पर है। लेकिन उसकी सुध लेने वाला कोई नहीं है, कमलूवागांजा का रहने वाला चंदन कफलटिया अपने घर में ही आमरण अनशन शुरू कर अपनी बहन को इंसाफ दिलाने के लिए सरकार और पुलिस महकमे से गुहार लगा रहा है, अनशन पर बैठे चंदन का कहना है कि उनकी बहन की शादी 2013 में तारा नवाड़ गौलापार क्षेत्र में गौरव बेलवाल के साथ हुई थी। ससुराल वाले अक्सर उनकी बहन के साथ मारपीट करते थे बीते 28 जून को मारपीट के बाद बेहोशी की हालत में उनकी बहन पुष्पा बेलवाल को हल्द्वानी के 20 अस्पताल में भर्ती कराया गया था,

यह भी पढ़ें -   बलियानाला भूस्खलन प्रभावित क्षेत्र के 99 परिवारों का बेलवाखान में होगा विस्थापन...

जिसके बाद 5 जुलाई को बरेली के राममूर्ति अस्पताल में उनकी बहन पुष्पा बेलवाल की मौत हो गई। भाई चंदन का आरोप है की बहन के साथ मारपीट होने से पहले भी 112 नंबर पर उनके द्वारा कॉल की गई थी बावजूद इसके चोरगलिया थाना पुलिस ने कोई मदद नहीं की लिहाजा उनकी रिपोर्ट दर्ज करने में भी पुलिस ने काफी लेटलतीफी और लापरवाही की है। अनशन में बैठे भाई का कहना है कि जब तक उनकी बहन को इंसाफ नहीं मिलता उनके ससुरालियों के ऊपर कार्रवाई के साथ-साथ दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई नहीं होती तब तक वह अपना अनशन जारी रखेंगे।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments