कोरोना के नाम पर इलाज की लूट, महज 4 घंटे में नेता प्रतिपक्ष को थमाया 45 हज़ार का बिल ।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

उत्तराखंड में कोरोना का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है अब तक उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या 40 हजार पहुंच चुकी है ऐसे में स्वास्थ्य व्यवस्थाओ का बुरा हाल नजर आ रहा है प्राइवेट अस्पालों में कोरोना के नाम पर लूट मची हई है बीती रात नेता प्रतिपक्ष इंद्रा ह्रदयेश अपने कोरोना पॉजिटिव होने पर इलाज कराने को एक प्राइवेट अस्पताल में 5 घंटे तक बेड नहीं मिला उसके बाद उनको जनरल वार्ड में रखा गया और वार्ड में रखते ही उनको 45 हजार का बिल थमा दिया इससे आप अंदाजा लगाया जा सकता है कि आम लोगो के लिये क्या व्यवस्थाएं होगीं .

यह भी पढ़ें -   अब उत्तराखंड के पहाड़ों में भी मिलेगी हेलीकॉप्टर एंबुलेंस सेवा, मरीजों को गोल्डन आवर में इलाज देने के लिए इस कंपनी से हुआ करार…

उत्तरखंड में लगातार बढ़ रहे कोरोना मामलो के बीच स्वास्थ सेवाओं का बुरा हाल है जबकि स्वास्थ्य विभाग की कमान खुद सूबे के मुखिया त्रिवेंद्र सिहं रावत देख रहे हैं मामला ने तब ज्यादा तूल पकड़ा जब विपक्ष की कद्दावर और नेता प्रतिपक्ष को घंटो एक प्रसिद्ध प्राइवेट अस्पताल में बेड नहीं मिला जिसके बाद उनको जनरल वार्ड में रखा गया और सीधे उनके हाथ में 45 हजार का बिल थमा दिया गया जो बताता है कि किस तरह कोरोना के नाम पर प्रदेश के प्राइवेट अस्पतालों में लूट मची हुयी है और स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का कितना बुरा हाल है जब प्रदेश की कद्दावर और वरिष्ठ नेता के साथ ऐसा व्यवहार हो रहा हो तो आम जनता की क्या बिसात। पर जिस तरह से प्रदेश में कोरोना पाजिटिवो का आंकड़ा दिनों दिन बढ़ रहा है और स्वास्थ्य सुविधाएँ दम तोड़ रही हैं ये चिंता का विषय है अगर ऐसे ही चलता रहा तो आने वाले दिनों में स्तिथि और भी भयावह हो सकती है।

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी: बिटिया हमें नाज है तुम पे! 21 बरस की पायल ने पिता की जान बचाने के लिए लीवर का हिस्सा किया डोनेट…
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments