हल्द्वानी में एक ही परिवार के तीन लोग झुलसे, एक की हालत गंभीर

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

हल्द्वानी। दमवाढ़ूँगा जवाहर ज्योति क्षेत्र में अचानक आग लगने से एक ही परिवार के तीन लोग झुलस गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से आग बुझाने का प्रयास किया और तीनों घायलों को नैनीताल रोड स्थित एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। जवाहर ज्योति कुमाऊं कॉलोनी निवासी 55 वर्षीय जानकी देवी पत्नी नारायण राम, रात करीब नौ बजे किचन में खाना बना रही थी, सब्जी में पानी डालने के लिए पानी की बोतल उठाई जैसे ही उन्होंने सब्जी में पानी डालना चाहा तो अचानक आग लग गई, यह देख उनका पुत्र 38 वर्षीय सुरेंद्र कुमार किचन पहुंचा और उन्हें आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। पति को जलता हुआ देख सुरेन्द्र की पत्नी 29 वर्षीय स्वाति आग बुझाने लगी।

यह भी पढ़ें -   बड़ी खबर :- उत्तराखंड में लगा नाइट कर्फ्यू, जारी हुए आदेश... देखें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

कुछ ही देर में स्थानीय लोग भी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने इस मामले की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंचे चौकी प्रभारी देवेंद्र बिष्ट ने स्थानीय लोगों के साथ आग बुझाने का प्रयास किया और कुछ ही देर में आग पर काबू पा लिया आग से जानकी देवी, व सुरेंद्र कुमार, सहित उसकी पत्नी स्वाति गंभीर रूप से झुलस गए, जिन्हें उपचार के लिए नैनीताल रोड स्थित निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया, जहां उनका इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें -   कोरोना के मामलों में आज फिर जबरदस्त बढ़ोतरी,भयावह आंकड़े आ रहे सामने

चौकी प्रभारी देवेंद्र बिष्ट ने बताया कि सुरेंद्र 85/प्रतिशत, उसकी पत्नी 30% व जानकी देवी 40 प्रतिशत आग में झुलसी हैं। उन्होंने यह भी बताया कि घर में पेट्रोल रखा था बोतले एक जैसी होने की के धोखे में सब्जी में पानी की जगह पेट्रोल डाल दिया जिससे यह हादसा हुआ देवेंद्र बिष्ट ने बताया कि सुरेंद्र की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है कि आखिर पानी की जगह पेट्रोल किसने रखा है।

यह भी पढ़ें -   सल्ट विधानसभा उपचुनाव, प्रचार थमा,कांग्रेस के प्रदेश सचिव विजय चंद्र ने गिनायी बीजेपी की खामियां, हरीश रावत ने सरकार पर बोला जमकर हल्ला ।
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments