नैनीताल वन प्रभाग में पहली बार हो रहा बर्ड सर्वे, विभिन्न राज्यों के 54 बर्ड वॉचर्स कर रहे खोज

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

नैनीताल। नैना देवी हिमालयन बर्ड कन्जरवेशन रिजर्व, नैनीताल वन प्रभाग में पहली बार बर्ड सर्वे किया जा रहा है। जिसमें विभिन्न राज्यों के 54 बर्ड वॉचर्स इस क्षेत्र में पाए जाने वाले विभिन्न प्रजातियों के पक्षियों की खोज कर उनका रिकॉर्ड वन विभाग को सौंपेंगे। छह ग्रुपों में बर्ड वॉचर्स हिमालयन  बॉटनिकल गार्डन, नैना देवी हिमालयन बर्ड कन्जरवेशन रिजर्व, नैनीताल, भवाली और महेशखान में बर्ड सर्वे करेंगे।
गुरुवार को नए साल के बॉटनिकल गार्डन में पक्षियों के सर्वे को लेकर नैनीताल वन प्रभाग के डीएफओ टीआर बीजू लाल की अध्यक्षता में कार्यक्रम का आयोजन हुआ।

जिसमें महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तराखण्ड, कर्नाटका, गुजरात, राजस्थान, केरला, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, उडीसा आदि राज्यों से आये बर्ड वाचर्स ने प्रतिभाग किया। टीआर बीजूलाल ने बताया कि 16 से 19 जून तक नैनीताल वन प्रभाग और ओरियन्टल ट्रेल के सहयोग से 04 दिवसीय बर्ड सर्वे का आयोजन किया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें -   केएमवीएन मुनाफे में, 08 करोड़ से ज्यादा का हुआ लाभ तो कार्मिकों को दी ये सौगात...


मुख्य अतिथि के रूप में पदद्म श्री अनूप साह ने कहा कि इन्सेक्टीसाइड, वनाग्नि और मौसम परिवर्तन से पक्षियों की संख्याओं में लगातार कमी हो रही है। बताया कि माउण्टेन क्वैल को अन्तिम बार नैनीताल और मसूरी में देखा गया। नैनीताल में माउण्टेन क्वैल का प्राकृतवास अभी समाप्त नहीं हुआ है। इसके मिलने की सम्भावना अभी भी है।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: सूरज को चारों ओर से अनोखी चमक ने घेरा, कैमरे में कैद हुआ यह हैलो इफैक्ट

दक्षिणी कुमाऊं वृत्त नैनीताल के वन संरक्षक कल्याण सिंह सजवाण ने कहा कि बर्ड सर्वे का अच्छा डाटा पाने के लिए वर्ष में तीन बार सर्वे कराया जाना चाहिए। कहा कि नवम्बर और दिसम्बर के बीच पक्षी उच्च हिमालय से निम्न हिमालय में आते हैं। माह जून से जुलाई तक स्थानीय पक्षियों के दीदार कर सकते हैं। डीएफओ टीआर बीजूलाल ने बताया कि बर्ड सर्वे के बाद पक्षियों का सही डाटा नैनीताल वन प्रभाग नैनीताल को मिल पायेगा।

इस दौरान ममता चन्द, वन क्षेत्राधिकारी, नैना रेंज, सोनल पनेरू, वन क्षेत्राधिकारी कोसी वन क्षेत्र के द्वारा नैना देवी हिमालयन बर्ड कन्जरवेशन रिजर्व, नैनीताल के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयीं। साथ ही अमित सांकल्य, संस्थापक ओरियनटल ट्रेल ने अहम जानकारी साझा की।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल में भारतीय ओलंपिक संघ के महासचिव राजीव मेहता के अवैध निर्माण को प्राधिकरण ने किया सील

कार्यक्रम में अजय सिंह रावत, वन क्षेत्राधिकारी, नैनीताल प्राणी उद्यान,  सूरज बिष्ट, वन दरोगा, अरविन्द कुमार, वन आरक्षी, आनन्द सिंह सिस्टम एनालिस्ट, अनुज काण्डपाल, बायोलॉजिस्ट, डॉ. रजनी रावत मौजूद रहे। 

छह टीम विभिन्न क्षेत्रों के लिए की गई नियुक्त
हिमालयन बॉटनिकल गार्डन, नारायणनगर में 12 बर्ड वॉचर, टांकी बैरियर में 7 बर्ड वॉचर, विनायक में 8 बर्ड वॉचर, कुजाखरक में 8 बर्ड वॉचर,   सातताल में 8 बर्ड वॉचर और महेशखान में 11 बर्ड वॉचर सर्वे के लिए नियुक्त किये गए हैं।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments