अंकिता हत्याकांड में किसी वजनदार वीआईपी को बचाने की कोशिश में जुटी है धामी सरकार: हरीश रावत

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्य के पूर्व सीएम हरीश रावत ने धामी सरकार पर निशाना साधते हुए अंकिता हत्याकांड में लिप्त लोगों को बचाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि अंकिता को जिस वीआईपी गेस्ट को सर्विस देने के लिए दबाव बनाया जा रहा था आखिर धामी सरकार उसे बचाने का प्रयास क्यों कर रही है। जरूर वह कोई रसूखदार व्यक्ति या राजनीति का कोई वजनदार चेहरा है जिसे बचाने की जुगत में सबूत मिटाए जा रहे हैं। उन्होंने अपनी पोस्ट में मुख्यमंत्री धामी सरकार को भी टैग कर अंकिता को न्याय दिलाने की मांग की है।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: नारायण नगर में कूड़ा रिसाइक्लिंग प्लांट के निर्माण पर स्थानीय लोगों से प्रशासन की वार्ता विफल।

हरीश रावत ने अपनी पोस्ट में लिखा है-

माननीय मुख्यमंत्री जी #अंकिता_भण्डारी ने अपनी पोस्ट में जिस #VIP का जिक्र किया था और यह कहा था कि एस्कॉर्ट करने के लिए मेरे ऊपर दबाव डाला जा रहा है। अभी तक उस वीआईपी की गिरफ्तारी का न होना लोगों को चिंता डाल रहा है! राजनीतिक लोगों के जेहन में वह चेहरा कुछ-कुछ साफ होने लगा है। लोगों को संदेह है कि वह वीआईपी बहुत ही वजनदार व्यक्ति है और उत्तराखंड के राजनीतिक घटनाक्रम से उसका पहले भी संबंध रहा है। ज्यों-ज्यों ये बातें चर्चा में आ रही हैं, लोगों की चिंता और गहरी होती जा रही है! मैं राज्य के प्रबुद्ध जनमानस से प्रार्थना करना चाहूंगा कि अपने-अपने तरीके से अगले दो-तीन दिन में अपनी चिंता को अभिव्यक्ति दीजिए‌। चाहे उपवास के माध्यम से दीजिए, चाहे बयानों के माध्यम से दीजिए, चाहे सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से दीजिए। मुख्यमंत्री जी राज्य के भरोसे को कायम रखिए।

यह भी पढ़ें -   बलियानाला भूस्खलन प्रभावित क्षेत्र के 99 परिवारों का बेलवाखान में होगा विस्थापन...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments