उत्तराखंड :- यहां सड़क हादसे में तीन की मौत , परिवार में मचा कोहराम

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

देहरादून। मोहंड के पास हुए सड़क हादसे ने एक घर की सारी खुशियां छीन लीं। जिस घर में कुछ दिन बाद शहनाई बजनी थी, वहां पर मातम छा गया है। स्वजन को यकीन नहीं हो रहा है कि उनके साथ यह सब कुछ हुआ है।
प्रवीण चौहान जल संस्थान में नौकरी करते थे। उनकी पत्नी मंजू चौहान गृहि‍णी थी। जबकि बेटी शिल्पी ने कुछ समय पहले ही स्नातक की डिग्री ली थी और आगे पढ़ाई करने की योजना बना रही थी।

शिल्पी की शादी 22 जनवरी को होनी थी। इससे पहले 19 दिसंबर को सगाई की योजना थी। कुछ माह पहले ही शिल्पी की शादी की बात देहरादून के रायपुर में आर्डनेंस फैक्ट्री में नौकरी करने वाले युवक से हुई थी। प्रवीण चौहान सगाई व शादी के लिए तैयारियां कर रहे थे। शादी के कार्ड छप चुके हैं, जबकि राशन व अन्य सामान भी वह खरीद चुके थे। कुछ समय पहले ही उन्होंने घर की मरम्मत कराई और इन दिनों में घर पर पुताई का काम चल रहा था।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल का ऐतिहासिक बैंड स्टैंड झील में समाने का डर, आवाजाही रोकी गयी...

पार्षद ऊषा चौहान ने बताया कि उनके भतीजे प्रवीण चौहान किसी को बिना कुछ बताए घर पर ताला लगाकर सबको साथ लेकर चले गए। इससे पहले वह कभी पूरे परिवार को साथ लेकर नहीं गए। दोपहर में जब उन्हें पता लगा कि उनकी कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई।

प्रवीण के पिता की भी हादसे में हुई थी मौत

यह भी पढ़ें -   कहीं यह बरसात फिर कोई आफत बनकर न बरसे...

प्रवीण चौहान के पिता बहादुर चौहान भी जल संस्थान में नौकरी करते थे। अगस्त 1995 में वह किसी काम से टिहरी अपने रिश्तेदार के घर जा रहे थे। चंबा के पास उनका वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें उनकी मौत हो गई। बहादुर चौहान की मृत्यु के बाद उनकी पत्नी को जल संस्थान में नौकरी मिली थी। कुछ समय बाद उनका भी निधन हो गया। इसके बाद प्रवीण चौहान को मां की जगह पर जल संस्थान में नौकरी मिली थी।

रविवार को जाना था सहारनपुर

पार्षद ऊषा चौहान ने बताया कि प्रवीण चौहान व उनके परिवार को शादी की खरीदारी करने के लिए रविवार को सहारनपुर जाना था, लेकिन वह शनिवार को ही चले गए। शनिवार को वह पित्रों की पूजा करते हैं, लेकिन प्रवीण पूजा में शामिल नहीं हुए। घटना के बाद उनके स्वजन ने घर का ताला तोड़ा।

यह भी पढ़ें -   कहीं यह बरसात फिर कोई आफत बनकर न बरसे...

जाते-जाते भी सगाई का न्योता दे रहे थे प्रवीण

क्षेत्रवासियों ने बताया कि शनिवार सुबह प्रवीण चौहान सहारनपुर जाने से पहले घर के बाहर कार की सफाई कर रहे थे तो इस दौरान रास्ते से जो भी गुजर रहा था, उसे बेटी की सगाई में शामिल होने का न्योता दे रहे थे। हादसे के बाद चौहान मोहल्ले में शोक की लहर है।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments