रुद्रपुर सिडकुल के सीईटीपी प्लांट में अमोनिया गैस रिसाव से प्लांट हेड समेत तीन की मौत,मचा हड़कंप

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

उत्तराखंड के उधम सिंह नगर के रुद्रपुर स्थित सिडकुल में फैक्ट्रियों के प्रदूषित पानी को फिल्टर करने वाले सीईटीपी प्लांट में तीन लोगों की मौत हो गई है। इस खबर से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। बताया जा रहा है कि सीईटीटी प्लांट की मोटर खराब होने के बाद आज जब वहां काम करने वाले कर्मचारी को नीचे मोटर खराब होने पर ठीक करने के लिए प्लांट में भेजा गया , वह नीचे उतरते ही प्लांट से निकलने वाली गैस से मूर्छित होकर बेहोश हो गया और डूब गया। उसे डूबता देख सीईटीपी प्लांट के प्लांट हेड भी उसे बचाने नीचे गए तो वह भी मूर्छित होकर डूब गए, जिसके बाद वहां मौजूद एक और कर्मचारी उन्हें निकालने नीचे गया तो वह भी वहीं डूब गया। जिसके बाद चौथे कर्मचारी को रस्सी बांधकर नीचे जैसे ही भेजा तो वह भी नीचे प्लांट की मोटर के पास पहुंचते ही गैस के रिसाव की वजह बेहोश हो गया।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: सड़क पर रखकर कूड़ादान, सरकारी जगह पर हो रहा था अवैध निर्माण

बताया जा रहा है कि कमर में रस्सी बधी होने की वजह से लोगों ने उसे ऊपर खींच लिया, जिससे उसकी जान बच गई और उसे अस्पताल भर्ती कराया गया है। बाकी 3 लोगों की डूबकर मौत हो गई है, फिलहाल एसडीआरएफ और पुलिस प्रशासन जेसीबी लगाकर डूबे हुए तीनों लोगों को निकाल रहे हैं, खबर लिखे जाने तक एसडीआरएफ और पुलिस ने तीनों शव ईटीपी प्लांट से निकाल दिए हैं। फिलहाल अग्रिम कार्रवाई चल रही है।सीईटीपी प्लांट में गड़बड़ी आने के चलते जब हरिपाल (हेल्पर) द्वारा मोटर ठीक करने के लिए टैंक में उतरा तभी वह भी बेहोश हो गया, जिसके बाद हरिपाल को बचाने के लिए प्लांट हेड रमन भी टैंक में उतरा लेकिन वह भी बेहोश होकर पानी के टैंक में गिर गया, जिसके बाद तीसरा कर्मचारी अवधेश भी इन दोनों लोगों को बचाने गया वहीं वह भी टैंक में गिर गया जिसके बाद तीनों लोगों की पानी में डूब कर मौत हो गई

यह भी पढ़ें -   पौडी जिले के ही होंगे देश के अगले सीडीएस, बिपिन रावत के बाद अनिल चौहान को मिली बड़ी जिम्मेदारी...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments