बड़ी खबर :- चरस तस्करी में शामिल पुलिस के दो सिपाही समेत चार गिरफ्तार,

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

पहाड़ी जिलों से चरस लाकर मैदानी जिलों में तस्करी करने के मामलों में अभी तक छोटे तस्कर ही पुलिस के हत्थे चढ़ रहे थे। आज ऊधमसिंह नगर जिला पुलिस ने पुलिस महकमे के ही दो सिपाहियों के साथ चार लोगों को गिरफ्तार कर बड़ा खुलासा किया है। ऊधमसिंहनगर के किच्छा में दो पुलिस कांस्टेबल सहित चार लोग लगभग दस किलो चरस समेत गिरफ्तार किये गये हैं। जबकि चम्पावत में तैनात एक सिपाही की मामले में संलिप्तता सामने आने पर जाँच की जा रही है। चारो आरोपियो के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है किच्छा पुलिस ने 8 किलो चरस के साथ पिथौरागढ़ में तैनात दो सिपाहियों सहित दो अन्य युवकों को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें -   सरकारी तंत्र का मंत्र: तालाब में रहकर मगर से बैर करोगे तो खैर नहीं...

चारो आरोपियो से दो कार भी बरामद की है। पुलिस ने चारों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत किच्छा कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक सिपाहियों ने पूछताछ में एक और सिपाही का नाम लिया है। जिले के एसएसपी दलीप सिंह कुँवर ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि किच्छा कोतवाली पुलिस को मुखबिर द्वारा सूचना दी कि लालपुर के पास मज़ार के सामने चरस की खेप की सप्लाई होने जा रही है। जिस पर पुलिस ने मौके पर दबिश दी तो दो अलग अलग गाड़ियों से चार युवकों को हिरासत में लिया गया।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: सड़क पर रखकर कूड़ादान, सरकारी जगह पर हो रहा था अवैध निर्माण

एक कार में दो युवक विपुल शैला निवासी आदर्श कालोनी खटीमा, पीयूष खडायत निवासी टिकरी खटीमा को 1.094 किलो ग्राम चरस के साथ पकड़ा तो वही प्रभात सिंह बिष्ट निवासी अमाऊ खटीमा, दीपक पाण्डे निवासी खेतीखान थाना लोहाघाट जिला चम्पावत को 6.914 किलो ग्राम चरस के साथ गिरफ्तार किया गया। आरोपी दीपक पांडेय व प्रभात सिंह ने बताया कि वह पिथौरागढ़ जनपद में पुलिस में सिपाही के पद पर तैनात है। वही उन्होंने एक और पुलिस कर्मी का नाम लिया है। किच्छा पुलिस ने चारों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है

यह भी पढ़ें -   धामी सरकार में बड़े फेरबदल की तैयारी, कुमाऊं के इस ब्राह्मण नेता को मिल सकता है मौका…
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments