नैनीताल के टेलर विजय के बनाये खादी के कपड़ों की मांग इंग्लैंड, जर्मनी, फ्रांस जैसे देशों में…

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

नैनीताल। सरोवर नगरी की खूबसूरती के साथ ही यहां के खादी के कपड़े भी विदेशों में खूब पसंद किए जा रहे हैं। नैनीताल के तल्लीताल बाजार में छोटी सी दर्जी की दुकान चलाने वाले विजय कुमार के बनाये कपड़ों की मांग इंग्लैंड, जर्मनी, फ्रांस समेत कई अन्य देशों में नैनीताल में बन रहे खादी कपड़े भेजे जा रहे हैं। इतना ही नहीं विदेशों में उनके कपड़े ऑनलाइन बिक रहे हैं।

खादी के कपड़े बना रहे विजय ने बताया कि उनके द्वारा खादी के कपड़े करीब 12 साल पहले से बनाए जा रहे हैं। कुछ माह पहले जर्मन की महिला पर्यटक नैनीताल घूमने आईं थीं। उन्होंने उनकी दुकान में लगे खादी कपड़े देखे तो उन्हें वह काफी पसंद आए और जर्मन पर्यटक ने उनकी दुकान से कुछ खादी के कपड़ों की खरीदारी की। उन्होंने उनके बनाये कपड़ों की तारीफ करने के साथ ही उनसे खादी के कपड़ों की विशेषता के बारे में जाना। विजय के बनाये कपड़ों से प्रभावित होकर उन्होंने उनका फोन नंबर लिया और जर्मनी जाने के बाद उनसे संपर्क किया।

महिला के द्वारा उनसे जर्मन फैशन के आधार पर खादी के वस्त्र बनवाकर कुछ सैंपल भेजने को कहा गया। विजय ने उसी विदेशी फैशन की तर्ज पर कपड़े बनाकर भेजे, जो जर्मन महिला को काफी पसंद आए और उसके बाद से अब तक उन्हें लगातार इसके ऑर्डर मिल रहे हैं। जर्मनी के साथ ही महिला के द्वारा उनके कपड़ों को इंग्लैंड, फ्रांस समेत अन्य देशों पहुंचाया गया। जिसके बाद अब उनके पास अन्य देशों से भी खादी के कपड़े की मांग हो रही है।

कारोबार बढ़ने पर विजय ने दिया 20 से अधिक लोगों को रोजगार

विजय बताते हैं कि जब से उनके द्वारा बनाए जा रहे खादी के कपड़ों की मांग विदेशों में बढ़ी तो उनके द्वारा अपने आसपास रहने वाले लोगों को खादी से बनने वाले कपड़ों का काम सिखा कर उन्हें रोजगार दिया गया। जिससे उन्हें भी अच्छा मुनाफा हो रहा है। उनका कहना है कि खादी को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार को छोटे कारीगरों की मदद को आगे आना चाहिए, जिससे भारत के खादी से बनने वाला कपड़ा विदेशों के कोने-कोने तक पहुंच सके।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments