नैनीताल: मुख्य कोषाधिकारी ने बढ़ते साइबर ठगी के मामलों पर जताई चिंता, पेंशनर्स से सतर्क रहने की अपील…

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

नैनीताल। पेंशनर्स के साथ हो रही साइबर ठगी के मामले में नैनीताल मुख्य कोषाधिकारी की ओर से सतर्कता बरतने की अपील की गई है। उन्होंने कहा है कि फोन पर किसी से भी अपने प्रमाण पत्रों से जुड़ी जानकारी साझा ना करें। 

मुख्य कोषाधिकारी नैनीताल दिनेश राणा ने जिले के सभी पेंशनरों से अपील की है कि वर्तमान में साइबर ठग कोषागार के अधिकारी एवं कर्मचारी बनकर पेंशनरों को जीवित प्रमाण पत्र के संबंध में कॉल कर उनसे डाटा मांग रहें हैं। डाटा प्राप्त होने पर पेंशनरों के खाते से धनराशि निकाल ली जा रही है।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: नारायण नगर में कूड़ा रिसाइक्लिंग प्लांट के निर्माण पर स्थानीय लोगों से प्रशासन की वार्ता विफल।

बताया कि पिछले दिनों कोषागार हल्द्वानी में इस तरह की घटना घटित हो चुकी है, जिसमें साईबर ठग द्वारा स्वंय को कोषाधिकारी बताकर पेंशनर को फोन किया गया और उनके व्हाट्सप पर एक फार्म भेजा व पेंशनर से फार्म भरवाकर पेंशनर की पूर्ण जानकारी प्राप्त करने के बाद उनके खाते से 10.5 लाख अवैध तरीके से हड़प लिये गये।

यह भी पढ़ें -   भीमताल: पैराग्लाइडिंग संचालन में आ रही कठिनाइयों को दूर करने करने के लिए तकनीकी समिति करेगी सर्वे

मुख्य कोषाधिकारी ने समस्त पेंशनरों से अपील की है कि पेंशनर अपने पेंशन सम्बन्धित कोई भी डिटेल फोन पर या व्हाट्सप पर किसी से भी साझा ना करें। 

इन नंबरों पर कर सकते हैं संपर्क

उन्होंने कहा कि कोषागार द्वारा पेंशनरों से कोई भी सूचना फोन पर या व्हाट्सप पर नहीं मांगी जाती है। अगर इस प्रकार की कोई भी कॉल या मैसेज प्राप्त होता है तो इसके बारे में मुख्य कोषाधिकारी नैनीताल के 9997917888, कोषाधिकारी हल्द्वानी 9917612951, उप-कोषाधिकारी कालाढूंगी 9997208445, रामनगर 9012373850, धारी 8057646269, कोश्याकुटौली 8077391937 व बेतालघाट 9528202775 के निम्न नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments