अल्मोड़ा के मरचूला में बाघिन को गोली मारने के मामले में उत्तराखंड शासन ने जिलाधिकारी को दिए जांच के आदेश।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

अल्मोड़ा जिले के मरचूला में हाल ही में बाजार में घूम रही बाघिन को गोली मारने के मामले में शासन द्वारा अल्मोड़ा के जिलाधिकारी को मजिस्ट्रेट जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। बाघिन को गोली मारने के मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक ने मजिस्ट्रेटी जांच कराने को शासन से आग्रह किया था।

यह भी पढ़ें -   चंपावत: गर्भवती को बिना इलाज के ही डॉक्टरों ने हायर सेंटर कर दिया रेफर, एंबुलेंस में देना पड़ा बच्चे को जन्म…

मालूम हो कि अल्मोड़ा जिले के मरचूला में बीते सोमवार को बाघिन को गोली मारने का एक वीडियो सामने आया था। जिस कारण उसकी मौत हो गई थी। जानकारी जुटाने पर पता चला था कि करीब रात नौ बजे बाघिन मरचूला बाजार पहुंच गई। जिससे बाजार क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई थी। शरीर से दुर्बल बाघिन खाने की तलाश में बाजार की ओर आई थी।

यह भी पढ़ें -   नाबालिग बाइक सवार की तेज रफ्तार ने ले ली स्कूटी सवार की जान... शादी के लिए शॉपिंग करने जा रहा था नैनीताल।

वन विभाग की ओर से बताया गया कि जनमानस की सुरक्षा के लिए वन विभाग के आरक्षी ने दो राउंड फायर किए, जिनमें से एक राउंड बाघिन के लगा और उसकी मौत हो गई। इस घटना का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया में वायरल हुआ।

मामला तूल पकड़ते देख वन विभाग ने आरक्षी धीरज सिंह को रेंज कार्यालय से अटैच कर दिया। वहीं इस राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण ने वन विभाग से घटना की जानकारी भी तलब की।

यह भी पढ़ें -   कुमाऊँ मंडल विकास निगम के 32 कर्मियों की हुई पदोन्नति

मुख्य वन्य जीव प्रतिपालक डॉ. समीर सिन्हा ने बताया गया कि शासन द्वारा मजिस्ट्रेटी जांच के निर्देश जिलाधिकारी अल्मोड़ा को सौंपी गयी है।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments