यहाँ कोविड सेंपलिंग के लिए गांव पहुंची स्वास्थ विभाग की टीम पर ग्रामीणों ने दराती और डंडो से किया हमला

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

कोरोना संक्रमण में जल्द से जल्द रोकथाम लग सके , इसको लेकर स्वास्थ्य कर्मी जी-जान से कार्य में जुटे है। तमाम क्षेत्रों में जाकर सेम्पलिंग लेने से लेकर संक्रमित के इलाज तक स्वास्थ्य कर्मी जान हथेली पर लेकर काम मे जुटे हुए है लेकिन कई बार इन कर्मचारियों के जान पर भी बन आती है

ताज़ा मामला ऊधमसिंह नगर जिले के सितारगंज स्थित खुनसरा गांव का है। जहां सेम्पलिंग के लिए गाँव पहुँची स्वास्थ्य विभाग की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया जानकारी के अनुसार यहां कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद गांव को माइक्रो कंटेनमेंट बनाया है। इसके बाद में लोगों का सैंपल लेने पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। सूचना पर पुलिस पहुंची तो मामला शांत कराया।ग्रामीणों के विरोध के बाद टीम को बिना सैंपल लिए ही वापस लौटना पड़ा।

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी :-कोविड के चलते पैरोल पर छुटे कैदी पुलिस के लिए बने सरदर्द, दे रहे कई आपराधिक घटनाओं को अंजाम ।

सीएमएस डॉ राजेश आर्य ने बताया कि रविवार को खूनसरा गांव में सेंपलिंग करने पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम का विरोध करना शुरू कर दिया। इस दौरान आरोप है कि इस दौरान एक व्यक्ति हाथ में दराती और लाठी लिए स्वास्थ्य विभाग व पुलिस टीम के सामने आकर उन्हें वहां से वापस जाने के लिए कहने लगा। ग्रामीणों के विरोध के बाद टीम बिना सैंपल लिए वापस लौट आयी। कुछ दिनों पहले गांव में कुछ लोगों के बीमार होने की सूचना मिली थी जिस पर टीम को सैंपलिंग के लिए भेजा गया था। लेकिन कुछ लोगों ने सैंपल दिए बाकी ग्रामीण मौके पर से कहीं और चले गए। जिस वजह से सब के सैंपल नहीं हो पाए थे।ऐसे घटना के बाद कोरोनाकाल में गांव-गांव घर-घर जाकर लोगों की जांच कर रही स्वास्थ्य विभाग की टीम की सुरक्षा को लेकर भी सवाल खड़े कर दिए हैं।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments