इन्वेस्ट करने व दुगना लाभ कमाने का लालच देकर ,युवक को लगाया 60 लाख का चुना

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

साइबर ठगी के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे है। ठगों की नजर लोगों की गाढ़ी कमाई पर है। ऐसे में ठग उन्हें अपने जाल में फंसाने के लिए नये-नये तरीके अपना रहे है। ठग भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों से भी आपके पैसों पर नजर रखे हुए है। ऐसे एक मामला एसटीएफ और साइबर क्राइम पुलिस ने पकड़ा है। एक नाइजीरियन ठग फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों से ऑनलाइन निवेश के नाम पर धोड़ाधड़ी करता था।

पुलिस से अभिनव पंवार पुत्र बचन सिह पंवार निवासी शेरगढी रावत मौहल्ला मसूरी देहरादून ने शिकायत की कि साथ अज्ञात ठगों द्वारा आंनलाईन ट्रैडिग कम्पनी FOREXTIME.COM की फर्जी साइट FXMARTKET.COM बनाकर शिकायतकर्ता से फोन एंव ई-मेल के माध्यम से सम्पर्क कर FXMARTKET.COM में धनराशि इन्वेस्ट करने व दुगना लाभ कमाने का लालच देकर शिकायतकर्ता से 60,00,000/- रुपये धनराशि आँनलाईन ट्रेडिग मे लगाना व उक्त धनराशि को Bitcoin मे लगाकर शिकायतकर्ता के साथ धोखाधडी कर धनराशि को विभिन्न बैक खातो में प्राप्त कर एटीएम के माध्यम से की, जिसके बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें -   चोपड़ा के वचनढूंगा में वायरक्रेट से प्लेटफार्म बनाने का कार्य अटका, पैसे तो मिल गए लेकिन नहीं मिल रहे ठेकेदार...

जांच में सामने आया कि ठगों ने 60 प्रतिशत धनराशि ठपजबवपद के माध्यम से नाइजीरियन देश भेज दी गयी। 60% धनराशि Bitcoin के माध्यम से नाइजीरियन देश भेज दी गयी तथा शेष 40% धनराशि SBI & INDIAN BANK उडीसा की बैंक शाखाओं में प्राप्त कर उक्त धनराशि का आहरण एटीएम मशीनो के माध्यम से दिल्ली एनसीआर आदि स्थानो से किया गया । घटना फर्जी आईडी कार्ड के आधार पर मोबाईल नम्बर का प्रयोग करता था, दिल्ली एनसीआर के जिन एटीएम मशीनो से निकाली गयी थी उन एटीएम मशीनो की जानकारी प्राप्त कर उनकी सीसीटीवी फुटेज प्राप्त की गयी तो विभिन्न मशीनो से प्राप्त सीसीटीवी फुटेज में एक नाइजीरियन व्यक्ति धनराशि निकालता पाया गया । सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दिल्ली एनसीआर आदि स्थानो पर नाइजीरियन व्यक्ति की तलाश शुरु की गयी व गिरोह के 01 मुख्य सदस्य(सरगना) Ernest Michal Ohenhen S/O Ohenhen R/O H.No 18 Ighilee Street Behin City Edostate Nigeria को नई दिल्ली से गिरफ्तार किया गया

यह भी पढ़ें -   नैनीताल में भारतीय ओलंपिक संघ के महासचिव राजीव मेहता के अवैध निर्माण को प्राधिकरण ने किया सील

पुछताछ पर महत्वपूर्ण जानकारिया प्राप्त हुयी कि अभियुक्त द्वारा अपने सहअभियुक्त के साथ आंनलाईन ट्रैडिग कम्पनी FOREXTIME.COM की फर्जी साइट FXMARTKET.COM बनाकर शिकायतकर्ता से फोन एंव ई-मेल के माध्यम से सम्पर्क कर FXMARTKET.COM में धनराशि इन्वेस्ट करने व दुगना लाभ कमाने का लालच देकर धनराशि प्राप्त की जाती है , तथा उक्त धनराशि के कुछ भाग को BitCoin के माध्यम से नाईजीरिया में बैठै अपने सहअभियुक्त को भेज दी जाती है तथा धनराशि का कुछ भाग भारतीय खातो में प्राप्त कर उसे एटीएम मशीनो के माध्यम से निकाला जाता है । घटना को कारित करने हेतु अभियुक्तगण देश के दूरस्थ स्थानो जैसे उडीसा आदि राज्यो के व्यक्तियों के बैक खातो को अपराध कारित करने में प्रयोग करते हुये उक्त धनराशि को देश के अन्य स्थानो से एटीएम मशीनो के माध्यम से आहरित कर अपराध कारित करते है । उपरोक्त अभियुक्तो द्वारा उत्तराखण्ड राज्य के अतिरिक्त भारत के अन्य प्रान्तो की आम जनता से भी ठगी किये जाने की जानकारी प्राप्त हुयी है । अभियुक्त की गिरफ्तारी के दौरान चौकाने वाला तथ्य यह भी प्रकाश मे आया कि अभियुक्त बिना वीजा व पासपोर्ट के दिल्ली के विभिन्न स्थानो पर छुपकर रह रहा था जिस पर अभियुक्त के विरुद्व 14 विदेशी अधिनियम के अधीन भी कार्यवाही की जा रही है , जिसकी सूचना नाईजीरियना दूतावास को दी जा रही है

यह भी पढ़ें -   चोपड़ा के वचनढूंगा में वायरक्रेट से प्लेटफार्म बनाने का कार्य अटका, पैसे तो मिल गए लेकिन नहीं मिल रहे ठेकेदार...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments