हल्द्वानी :- नकली कॉस्मेटिक प्रोडक्ट बेचने के आरोप में पुलिस ने दुकानदारों के खिलाफ किया केस दर्ज, दुकानों को किया सील

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

हल्द्वानी : पुलिस और फाइनेंशियल टास्क फोर्स ने नकली कास्मेटिक प्रोडक्ट बेचने का भंडाफोड़ किया है। बनभूलपुरा में दो दुकानों में नकली प्रोडक्ट थोक में बेचे जा रहे थेपुलिस ने दोनों दुकानों को सील कर दिया है। बरामद सामान की कीमत करीब आठ लाख है। आरोपित दुकानदारों पर धोखाधड़ी व कापीराइट एक्ट में केस दर्ज किया गया है।

सीओ शांतनु पाराशर ने बताया कि एचयूएल के अधिकारियों को बाजार में नकली कास्मेटिक प्रोडक्ट बिकने की सूचना मिली थी। प्रोडक्ट मैनेजर को साथ लेकर उन्होंने मंगलवार को फाइनेंशियल टास्क फोर्स व बनभूलपुरा पुलिस को कार्रवाई के लिए भेजा। बनभूलपुरा लाइन नंबर एक में स्थित छतरी चौराहे पर मून पैलेस में छापा मारने पर भारी मात्रा में नकली कास्मेटिक प्रोडक्ट बरामद हुए। इसके बाद टीम ने लाइन नंबर एक में ही इरफान कादरी कास्मेटिक एंड बैंगल स्टोर में छापा मारा।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड :- कोरोना की बढ़ती रफ्तार,प्रदेश भर में कोरोना के 4402 नए मामले

दुकान से अत्यधिक मात्रा में नामी कंपनियों के नकली प्रोडक्ट बरामद किए गए। पुलिस ने बरामद माल जब्त कर दोनों दुकानों को सील कर दिया। सीओ शांतनु पाराशर ने बताया कि दोनों दुकानदारों के खिलाफ धारा 63 कापीराइट एक्ट और धोखाधड़ी में केस दर्ज किया है। टीम में फाइनेंशियल टास्क फोर्स के एसआइ सतीश शर्मा, एसआइ अमर सिंह शामिल रहे।

1200 नकली प्रोडक्ट मिले

दोनों दुकानों में पुलिस टीम को 1200 प्रोडक्ट नकली मिले हैं। जिसमें शैंपू, लिपिस्टिक, आइ लाइनर, फाउंडेशन, मशकारा और काजल समेत अन्य सामग्री है। आरोपित लंबे समय से थोक में सामान बेच रहे थे। तराई से लेकर पहाड़ के कई जिलों में नकली सामान सप्लाई हुआ है।

तीन सैंपल हुए थे फेल

नकली प्रोडक्ट बेचने की सूचना मिलते ही सीओ शांतनु पराशर ने मामले को गंभीरता से लिया था। उन्होंने दुकान में पहुंचकर शैंपू समेत तीन अन्य प्रोडक्ट खरीदे। इसके बाद जांच के लिए लैब भेज दिए थे। लैब में तीनों सैंपल फेल हो गए थे। इसके बाद सीओ ने दुकानों पर कार्रवाई की तैयारी कर ली थी।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड :- हरक सिंह रावत हुए भाजपा से निष्कासित , बोले - इस बार कांग्रेस की सरकार

रुद्रपुर में बन रहे हैं नकली कास्मेटिक प्रोडक्ट

पुलिस ने नकली कास्मेटिक प्रोडक्ट पकडऩे के बाद आरोपितों से पूछताछ शुरू कर दी है। आरोपितों का कहना है कि कास्मेटिक प्रोडक्ट रुद्रपुर के एक व्यक्ति से खरीदकर लाए गए थे। पुलिस अधिकारियों के मानें तो रुद्रपुर में ही नकली कास्मेटिक प्रोडक्ट बनाए जा रहे हैं। फाइनेंशियल टास्क फोर्स व पुलिस जल्द नकली कंपनी का भी भंडाफोड़ कर सकती है।

पकड़े जाने के डर से नहीं देते थे बिल

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड:- सीमा सुरक्षा बल में कांस्टेबल के 2788 पदो पर आई भर्ती, आवेदन प्रक्रिया शुरू

आरोपित बेहद शातिर हैं। दोनों की दुकान का सामान पूरे हल्द्वानी के साथ ही अल्मोड़ा, पिथौरागढ़ व चम्पावत में बिकने पहुंचता है। आरोपित पकड़े जाने के डर से किसी भी खरीदार को बिल बनाकर नहीं देते हैं। बिकने वाले सामान में कई एक्सपायरी भी हो चुके हैं।

चेहरा कर सकता है खराब

बाजार में बिक रहा नकली क्रीम, पाउडर, लिपिस्टिक, आइ लाइनर, फाउंडेशन चेहरा खराब कर सकता है। इसमें कई तरह का केमिकल मिलाया गया है। पुलिस ने नकली सामान से बचने का अनुरोध किया है।

सीओ शांतनु पराशर ने बताया कि पूरी प्लानिंग के साथ दुकानों में नकली कास्मेटिक सामान का भंडाफोड़ किया गया। आरोपितों से पूछताछ चल रही है। सामान कहां से आया। जल्द इसका भी खुलासा होगा। कास्मेटिक सामान खरीदने से पहले बार कोड चेक कर लें।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

हमारे इस नंबर 9368692224 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

👉 Hills Mirror के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 Hills Mirror के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 Hills Mirror से Telegram पर जुड़ें

👉 हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments