यहां दो साल का बच्चा हुआ लापता, गुलदार के उठा ले जाने की आशंका से ग्रामीणों में मचा हड़कंप

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

हल्द्वानी: ज्योलीकोट क्षेत्र में एक दो वर्षीय बच्चे को गुलदार के उठा ले जाने की आशंका के बाद हड़कम्प मच गया। पुलिस व वन विभाग ग्रामीणों की टीमें बच्चे की तलाश कर रही हैं। घटना ज्योलीकोट के नजदीक चोपड़ा गांव में शुक्रवार शाम 6 बजे की है।प्राप्त जानकारी के अनुसार यहां नेपाली मूल के एक श्रमिक भानु राणा अपनी पत्नी मीना राणा के साथ मटियाल बैंड के पास झोपड़ी रहते हैं। उनके दो बेटे हें। बड़े का नाम पीयूष है। उसकी उम्र लगभग 4 वर्ष होगी। भानु का छोटा बेटा राघव दो साल का है।शुक्रवार देर शाम करीब 6 बजे भानु का पुत्र राघव कमरे से निकलकर घर के आंगन में आ गया। जिसके बाद वह अचानक गायब हो गया, मां मीना राणा जब बाहर आई तो राघव लापता था। बाद में ग्रामीणों ने बताया कि उन्होंने एक गुलदार को यहां देखा था। मामले की जानकारी पुलिस वन विभाग को दी गई। पुलिस व वन विभाग की टीमें गांव में पहुंचीं और ग्रामीणों के साथ मिलकर बच्चे की तलाश में अभियान चलाया चलाया जा रहा है। बालक के परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।लॉकडाउन के बाद से उत्तराखंड के पर्वतीय जिलो में गुलदार की हरकत देखने को मिली है। पिछले कुछ वक्त से गुलदार ने कई लोगों को अपना शिकार बनाया है। पिथौरागढ़ के सीमांत गांवों में गुलदार से लोगों को बचाने के लिए प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें -   कांगेस प्रवक्ता ने कहा, पिरान कलियर शरीफ पर आरोप लगाने वाली भाजपा सरकार आरएसएस और अपने नेताओं के रिजॉर्ट्स पर सबसे पहले करायें कार्रवाई...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments