उत्तराखंड :- स्कूल में क्लास से शिक्षिका के बाहर निकलते ही आपस में भिड़े छात्र…. एक की हुई मौत

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

ऊधमसिंह नगर जिले के गदरपुर में एक छात्र की स्कूल में झगड़े के दौरान चोट लगने से मौत हो गई। छात्र की मौत के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। वहीं घटना के बाद स्कूल प्रबंधन में हडक़ंप मच गया। घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी ली। छात्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस सीसीटीवी की फुटेज की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार ग्राम मजरा शीला निवासी विवेक सिंह 14 साल पुत्र राम सिंह विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में कक्षा 9 का छात्र था। आज सुबह विवेक आठ बजे स्कूल पहुंचा। बताया जा रहा है कि सुबह करीब 11.15 बजे पांचवां पीरियड खत्म हुआ तो शिक्षिका अंजलि क्लास रूम से बाहर निकली। जैसे ही वह कुछ दूर ही पहुंची थी कि क्लास में हो हल्ला हो गया। जिसके बाद वह वापस क्लास रूम पहुंच गई

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी में मोटा ब्याज लेने वाले सूदखोरों पर कसेगा इनकम टैक्स का शिकंजा... पुलिस ने बनाई लिस्ट।

क्लास में विवेक जमीन पर गिरा पड़ा था। आनन-फानन में शिक्षिका ने इसकी सूचना स्टाफ को दी। जिसके बाद स्कूल स्टाफ ने घायल छात्र को टुकटुक से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया। लेकिन यहां चिकित्सकों ने विवेक को मृत घोषित कर दिया। विवक की मौत की खबर से स्कूल प्रबंधन के हाथ-पांव फूल गये। जिसके बाद सूचना उसके परिजनों और पुलिस को दी।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल में बिना सत्यापन घूम रहे भिक्षुक बनकर संदिग्ध, बच्चों से मंगवा रहे भीख... पुलिस अंजान

खबर मिलते ही थानाध्यक्ष सतीश चंद कापड़ी, एसआई हरविंदर सिंह और परिजन अस्पताल पहुंचे। बेटे को देखते ही परिजनों में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है कि मृतक छात्र विवेक सिंह का अपने ही क्लास के एक अन्य छात्र का कॉपी को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद दोनों में विवाद हो गया। दूसरे छात्र ने विवेक को धक्का दे दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इसके बाद स्कूल स्टाफ ने उसे पानी भी पिलाया फिर उसे अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हालांकि उसके शरीर पर कोई भी चोट का निशान नहीं था। इससे आशंका जताई जा रही है कि छात्र को कोई अंदरूनी चोट लगी जिससे उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: फिर एक बार ब्रिटिशकालीन घड़ियां करेंगी टिक टिक...CRST में 1889 में स्थापित घड़ी होगी दुरुस्त।

मृतक छात्र के पिता राम सिंह अशोका लीलैंड में सुरक्षा गार्ड के पद पर कार्यरत हैं। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सीओ वंदना वर्मा ने बताया कि स्कूल द्वारा घटना की जानकारी दी गई थी। घटना के बाद सीसीटीवी की फुटेज की जांच और स्टाफ से पूछताछ की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल सकेगा

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments