उत्तराखंड : निर्धारित से अधिक फीस लेने के आरोप में एमएस समेत पांच डॉक्टरों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा किया दर्ज

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

देहरादून : कोरोना संक्रमित मरीज के इलाज के लिए निर्धारित से अधिक फीस लेने पर राजपुर थाना पुलिस ने मैक्स अस्पताल, अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक (एमएस) और पांच चिकित्सकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इस मामले में अस्पताल के स्टाफ को भी आरोपित बनाया गया है।अस्पताल के विरुद्ध विशाल अग्रवाल निवासी एकता एवेन्यू डालनवाला ने गत सप्ताह पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार से शिकायत की थी। इसमें बताया कि उनकी माता सावित्री देवी को कोरोना संक्रमण होने पर 23 अप्रैल 2021 को मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां कुछ दिन बाद उनकी रिपोर्ट निगेटिव आ गई।उनका आरोप है कि बावजूद इसके दो जून को चिकित्सकों की लापरवाही के कारण उनकी माता का निधन हो गया। अस्पताल प्रबंधन ने उनसे इलाज के नाम पर 17 लाख रुपये वसूल लिए, जो निर्धारित शुल्क से काफी अधिक थे। उन चिकित्सकों की भी विजिटिंग फीस वसूल की गई, जिन्होंने उनकी माता का इलाज नहीं किया। विशाल का कहना है कि इसकी पुष्टि मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय की ओर से भी की जा चुकी है। हालांकि, अस्पताल ने उन्हें अतिरिक्त धनराशि नहीं लौटाई। विशाल का यह भी आरोप है कि इस मामले में उन्होंने राजपुर थाना पुलिस और एसएसपी से शिकायत की थी, लेकिन दोनों ही स्तर से कोई कार्रवाई नहीं की गई।ऐसे में पुलिस महानिदेशक से गुहार लगानी पड़ी।थानाध्यक्ष राजपुर मोहन सिंह ने बताया कि पुलिस महानिदेशक के आदेश पर मसूरी डायवर्जन स्थित मैक्स अस्पताल, अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक, डा. प्रीति शर्मा, डा. पुनीत त्यागी, डा. वैभव छाजर, डा. चंद्रकांत, डा. बिपेश उनियाल सहित अन्य स्टाफ के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
उधर, मैक्स अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि मुकदमे की प्रति उन्हें प्राप्त हो गई है। वह जांच में पूर्ण सहयोग करेंगे।

यह भी पढ़ें -   राजस्थान से उत्तराखंड लाई गई अवैध शराब के साथ दो आरोपी गिरफ्तार
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

हमारे इस नंबर 9368692224 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

👉 Hills Mirror के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 Hills Mirror के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 Hills Mirror से Telegram पर जुड़ें

👉 हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments