उत्तराखंड :- उधारी न चुकाने पर व्यक्ति को मारी गोली, व्यक्ति की हालत गंभीर, आरोपी गिरफ्तार

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

हल्द्वानी : 20 दिन पहले रामपुर रोड में गार्ड को गोली मारने के आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित ने 17 हजार रुपये के बदले में गोली चलाई थी।मुख्य आरोपित अभी फरार है। शुक्रवार को पुलिस बहुउद्देश्यीय भवन में एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने मामले का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि 20 नवंबर को रामपुर रोड निवासी रेखा गंगवार ने कोतवाली में केस दर्ज कर बताया था कि 19 नवम्बर को उसके पति केशव गंगवार को घर के बाहर अज्ञात बदमाश ने गोली मार दी थी।

उक्त सनसनीखेज घटना का पर्दाफाश के लिए टीपीनगर चौकी इंचार्ज मनोज कुमार व एसआई निर्मल लटवाल के नेतृत्व में अलग-अलग पुलिस टीमों का गठन किया गया। नौ दिसम्बर को टीम ने ट्रांजिट कैम्प रुद्रपुर निवासी शूटर सूरज पुत्र मैकू लाल को 315 बोर के तमंचे के साथ गिरफ्तार किया। पूछताछ में पता चला कि आरोपित ने बताया कि घायल केशव गंगवार की पत्नी रेखा की ग्राम जोखनपुर थाना शीशगढ जिला बरेली निवासी छोटे लाल उर्फ बृजनन्दन से जान पहचान थी।

रेखा गंगवार ने दो लाख रुपए उधार दिये गये थे। इन पैसों को वापस लेने के लिए रेखा गंगवार व उसके पति छोटे लाल पर दबाव बना रहे थे। छोटे लाल ने ट्रांजिट कैम्प रुद्रपुर निवासी अपने मित्र सूरज के साथ मिलकर केशव को रास्ते से हटाने की योजना बनाई। सूरज ने छोटे लाल से 17 हजार रुपये देने थे। जिसके एवज में सूरज केशव गंगवार को गोली मारने की तैयार हो गया। 19 नवम्बर को छोटे लाल अपनी बाइक से सूरज को एक तमन्चा 315 बोर व दो कारतूस देकर केशव गंगवार के घर के बाहर छोड़ गया। जब केशव लाल बैंकट हाल से गार्ड की ड्यूटी कर वापस अपने घर आ रहा था तो वहां पहले से मौजूद घूम रहे शूटर सूरज ने केशव गंगवार पर तमंचे से फायर कर दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उन्होंने बताया आरोपित सूरज को तमंचे व एक कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया है। जबकि मुख्य आरोपित छोटे लाल उर्फ बृजनन्दन फरार है। टीम में चौकी इंचार्ज मनोज कुमार, एसआई निर्मल लटवाल, हेड कांस्टेबल दीपक अरोरा, कांस्टेबल चन्दन सिंह नेगी, रविन्द्र खाती व जगदीश भारती मौजूद रहे।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments