उत्तराखंड :- यहां कोरोना संक्रमित होने पर अस्पताल से भागा पर्यटक , पुलिस ने किया केस दर्ज

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

नैनीताल: कोरोना वायरस के नंबर एक बार फिर बढ़ने लगे हैं। उत्तराखंड में कोरोना वायरस के एक्टिव केसों की संख्या 300 से ऊपर चले गई है और जिला प्रशासन लगातार नियमों को सख्त कर रहा है। नए साल की छुट्टियों के लिए पर्यटक नैनीताल व अन्य स्थानों पर पहुंच रहे हैं। नैनीताल में कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट व वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र के बिना एंट्री नहीं है। बात नैनीताल जिले की करें तो एक पर्यटक कोरोना संक्रमित होने के बाद गायब हो गया है। पुलिस प स्वास्थ्य विभाग की टीम उसे खोज रही है। शुक्रवार को भी नैनीताल जिले में कुल 8 मरीज कोरोना से संक्रमित पाए गए।जानकारी के अनुसार नागपुर महाराष्ट्र के रहने वाले 4 लोग बुधवार को नैनीताल पहुंचे थे। सभी ने होटल बुक कराए थे। होटल प्रबंधन के पास उनकी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट थी। चारों सैलानियों को शुक्रवार सुबह वापस जाना था। इसके लिए उन्होंने दिल्ली से नागपुर की फ्लाइट की बुक कराई थी।कोरोना के मामले बढ़ने के बाद एयरपोर्ट पर कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट मांगी जा रही है और इसीलिए चारों कोरोनावायरस कराने के लिए बीडी पांडे हॉस्पिटल पहुंचे। सभी की एंटीजन रैपिड जांच की गई और 19 वर्षीय युवक कोरोनावायरस पाया गया। कोरोना संक्रमित होने की खबर लगते ही सभी हॉस्पिटल से भाग गए। काफी देर तक उन्हें खोजा लेकिन वो नहीं मिले। इसके बाद कोरोना संक्रमित युवक का फोन भी बंद आने लगा। हॉस्पिटल प्रशासन ने इस मामले की जानकारी कोतवाली पुलिस को दी जिसके बाद उन्हें खोजा जा रहा है। पुलिस ने युवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें -   वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पुण्यतिथि: पेशावर के इस महानायक को बीच सभा में गांधी जी ने टोका- यह गोरखा हैट पहने मुझे डराने के लिए कौन यहां बैठा है?
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments