उत्तराखंड :- कार के अनियंत्रित हो खाई में गिरने से एक ही परिवार के तीन लोगों की दर्दनाक मौत, 2 घायल

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

पिथौरागढ़ से एक बड़ी दुखद खबर सामने आ रही है। कि यहां हल्द्वानी से पिथौरागढ़ को आ रही एक कार नेशनल हाईवे में दुर्घटना का शिकार हो गई। इस कार में सवार एक ही परिवार के 3 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि 2 लोग घायल हो गए घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों घायलों की हालत गंभीर बताई जा रही है।जानकारी के मुताबिक पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय से 25 किलोमीटर दूर चुपकोट बैंड के पास एक कार अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे जा गिरी, नीचे कुछ दूरी पर सड़क होने के बावजूद फिर से सड़क से भी 200 मीटर गहरी खाई में लुढ़क कर गहरी पहुंच गई इस घटना में 36 वर्षीय कार चालक बलवंत जिमवाल उनकी पत्नी पूर्णिमा उम्र 32 वर्ष और 6 वर्ष का बेटा भाब्याश की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि कार में सवार सुरेंद्र बहादुर और नवनीत गंभीर रूप से घायल हो गए बताया जा रहा है कि मृतक जिमवाल परिवार मूल रूप से ओगला का रहने वाला है वर्तमान में जिला मुख्यालय के रई वार्ड में निवास कर रहा है मृतक शिक्षक रानीखेत राजकीय इंटर कॉलेज बांसकोट में तैनात थे और उनकी पत्नी पिथौरागढ़ में ही गेस्ट टीचर थी। दीपावली मनाने के लिए परिजनों अपने परिवारजनों के पास हल्द्वानी आए थे और हल्द्वानी से वापस पिथौरागढ़ लौट रहे थे।घटना की जानकारी मिलते ही तहसीलदार सहित कोतवाली पुलिस और एसटीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची जिसके बाद जवानों ने गहरी खाई में उतरकर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया मृतकों और घायलों को बाहर निकालकर घायलों को जिला चिकित्सालय लाया गया है घायल सुरेंद्र सेना और नवनीत एसएसबी के जवान बताए जा रहे हैं फिलहाल इन दोनों घायलों का मृतक परिवार जनों से कोई संबंध निकलकर सामने नहीं आया है।अनुमान लगाया जा रहा है कि घायलों द्वारा कार से लिफ्ट मांगी गई होगी फिलहाल इस घटना के कारणों की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें -   सरोवर नगरी में रच-बस गया बंगाल का दुर्गा पूजा महोत्सव, सबसे पहले वर्ष 1956 में घट स्थापना कर मनाया गया था...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments