पिथौरागढ़ : – मुनस्यारी में बादल फटने से हुआ भारी जानमाल का नुकसान तीन लोगों की मौत , 9 लोग हुए लापता

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी क्षेत्र में बादल फटने से कई घर जमींदोज हो गए हैं. पहाड़ से अचानक आए मलबे में कई घर दब गए. साथ ही पानी के बहाव कई लोगों के बहने की भी खबरें हैं. जानकारी के मुताबिक यहां तीन लोगों की मौत हो गई है और 9 लोग लापता हैं. मौसम विभाग की मानें तो यहां अगले दो दिनों तक भारी बारिश परेशानी का सबब बन सकती है.

रविवार की रात हुई भारी बारिश के बाद यहां मुनस्यारी के टागा गांव और बंगापानी के गेला गांव मे बादल फटने से तबाही मच गई. कई घर देखते ही देखते जमींदोज हो गए. गेला गांव में 3 लोगों के घर के मलबे में दबने से मौत हो गई वहीं, यहां 3 अन्य घायल हो गए.

यह भी पढ़ें -   कैंची धाम मंदिर के पास फटा बादल ,मंदिर परिसर में घुसा भारी मलवा..अल्मोड़ा हाइवे हुआ बंद

इसके अलावा टागा में 9 लोग लापता हैं और एक व्यक्ति घायल के घायल होने की खबर है. बादल फटने के बाद रास्ते के बह जाने से यहां के लोग गांव में ही फंस गए हैं. उनके बाहर किसी भी इलाके से जुड़ने का कोई रास्ता नहीं बचा है. घटना के बाद राहत-बचाव कार्य टीम को घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया गया है.उत्तराखंड में भारी बारिश से नदियां उफान पर हैं. सबसे ज्यादा नुकसान मुनस्यारी में एक पुल पानी में समा गया. मुनस्यारी में चीन सीमा तक जाने वाली मेलम सड़कत को भी काफी नुकसान पहुंचा है. कई जगहों पर इस सड़क में दरार आ गई है. हाल ही में इस सड़क की मरम्मत की गई थी. मेलम रोड के टूट जाने से गांववालों के साथ-साथ सेना को भी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.

यह भी पढ़ें -   बड़ी खबर :-11 से 18 मई पूरे राज्य में सख्ती के साथ लागु होगा कोविड कर्फ़्यू ,ये होंगी शर्तें...

मौसम विभाग ने उत्तराखंड के हरिद्वार पौड़ी गढ़वाल, पिथौरागढ़, नैनीताल और बागेश्वर में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी कर रखा है. यानी मुसीबत अभी बाकी है. उत्तराखंड के साथ साथ दूसरे पहाडी राज्य हिमामचल में भी बारिश आफत बन रही है. कई जगहों पर लैंडस्लाइड की खबर है. 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments