कोरोना काल में दिखा अनोखा माहौल ,जब दुल्हन बारात लेकर पहुंची दूल्हे के घर …….

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

कोरोना संक्रमण के इस दौर में हर किसी को परेशानियों से दो चार होना पड रहा है ,खास तौर पर विवाह समारोह में इसका असर देखने को मिला है ,महामारी के इस दौर में विवाह की कई रस्मों को बदलने तक की घटनाएं देखने को मिल रही हैं ताज़ा मामला उत्तराखंड के चम्पावत जिले में देखने को मिला जहाँ दुल्हन बारात लेकर दूल्हे के घर पहुंची। पूरे रीति-रिवाज के साथ विवाह की सारी रस्में संपन्न हुईं। इसके बाद दुल्हन ससुराल में रुक गई और सभी के साथ माता-पिता वापस घर जाकर होम आइसोलेट हो गए।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड मौसम अपडेट :- मौसम विभाग ने जतायी भारी बारिश की आशंका ,5 दिनों का अलर्ट किया जारी ,

जानकारी के अनुसार स्वाला गांव निवासी ईश्वरी दत्त (25) पुत्र स्व. दिलेराम की शादी कुछ समय पूर्व रायनगर चौड़ी, लोहाघाट निवासी प्रीति पुत्री केशव दत्त के साथ तय हुआ। शादी के लिए दोनों परिवारों ने तैयारियां शुरू कर दी। कोरोना का प्रकोप ऐसा बढ़ा कि स्वाला गांव में चार दिन पूर्व एक साथ 47 लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद प्रशासन ने उसे माइक्रो कंटेनमेंट जोन बना दिया। इससे शादी को लेकर दूल्हा और दुल्हन पक्ष के लोग असमंजस में पड़ गए। दूल्हे के बारात लेकर लोहाघाट न जाने पर दुल्हन पक्ष ने इसका हल निकाला। तय किया गया कि स्वाला से बारात ले जाने के बजाय कन्या पक्ष स्वाला जाएगा।

यह भी पढ़ें -   UKSSSC अपडेट :-युवाओं के लिए बड़ी खबर ,जुलाई माह से ये लिखित परीक्षायें प्रारम्भ कर सकता है आयोग ,

प्रशासन ने दुल्हन समेत चार लोगों को स्वाला जाने की अनुमति दी। इस पर दुल्हन प्रियंका चार अन्य लोगों के साथ बुधवार को स्वाला गांव पहुंची। जहां विवाह की रस्में पूरी की गईं। विवाह के लिए दुल्हन प्रियंका, मां भावना देवी, पिता रमेश बिनवाल और पुरोहित रघुवर दत्त स्वाला गांव पहुंचे थे। विवाह के बाद दुल्हन के मां, पिता और पुरोहित वापस अपने गांव लौट गए। तीनों लोगों को प्रशासन ने होम आइसोलशन में रहने के निर्देश दिए हैं। वहीं दुल्हन प्रियंका अपने ससुराल में ही रहेगी

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड :- लोकगायक बीके सामंत एक बार फिर लेकर आये पहाड़ की सुंदरता से भरा मनमोहक गीत ,विलुप्त होते बांज की दिलाई याद

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments