साल का अंतिम चंद्र ग्रहण होगा कल, सूतक काल में बंद रहेंगे मंदिरों के कपाट…

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

नैनीताल। साल 2022 का आखिरी चंद्र ग्रहण मंगलवार 8 नवंबर को हो रहा है। ऐसे में ग्रहण से 9 घंटे पहले सूतक अवधि शुरू होगी। सूतक काल का समय सुबह 5:38 से शाम 6:19 तक रहेगा। सूतक होने के कारण सिद्धपीठ नयना देवी मंदिर मंगलवार को पूरे दिन बंद रहेगा। इस दौरान श्रद्धालु मां के दर्शन नहीं कर सकेंगे। शुभ कार्य भी वर्जित रहेंगे। नयना देवी मंदिर के पुजारी भगवत प्रसाद जोशी ने कहा कि चंद्र ग्रहण पर सूतक काल के चलते सुबह 8:30 से मंदिर के पट करीब शाम 7:30 बजे तक बंद रहेंगे।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: उच्च न्यायालय ने अंकिता हत्याकांड मामले में पुलकित आर्य के नार्को और पॉलीग्राफ टेस्ट पर लगाई रोक

ज्योतिषाचार्य मंजू जोशी ने कि बताया कि ग्रहण का स्पर्श काल दोपहर 1:38 बजे मध्यकाल 4:29 मिनट पर होगा। भारत में चंद्र ग्रहण
शाम के 5:15 बजे से शुरू होगा। ग्रहण का मोक्ष काल शाम 6:19 बजे होगा। इसके बाद मंदिर के शुद्धीकरण के बाद गंगाजल व पंचामृत से स्नान कराकर आरती होगी। उसके बाद श्रद्धालुओं के लिए दर्शन खोल दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: नारायण नगर में कूड़ा रिसाइक्लिंग प्लांट के निर्माण पर स्थानीय लोगों से प्रशासन की वार्ता विफल।

क्या करें–
-ग्रहण काल में गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतने के लिए कहा है।
-धारधार वस्तुओं का प्रयोग न करें।
-ग्रहण के दौरान सोयें नहीं।
-जो लोग कुंडली में राहु, चंद्रमा, केतु से पीड़ित हों या फिर जिनकी शनि के साथ चंद्रमा का विष दोष हो, ऐसे लोगों को सफेद वस्तुओं का दान करना चाहिए।
-धार्मिक पुस्तकों का पाठ करें।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments