पिथौरागढ़: आदमखोर गुलदार को मारने के लिए नैनीताल से पहुंचे शिकारी,चंडाक क्षेत्र में लगाए तीन पिंजरे

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

पिथौरागढ़। जिला मुख्यालय के पास चंडाक क्षेत्र में तीन दिन के भीतर इंसानों पर गुलदार के हमले की दो घटनाओं के बाद शनिवार देर शाम वन विभाग ने गुलदार को आदमखोर घोषित कर दिया था। इसके बाद रविवार को नैनीताल से एक शिकारी पिथौरागढ़ पहुंच गए हैं जबकि मेरठ से भी एक अन्य शिकारी को बुलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें -   293 एलटी शिक्षकों को मिलेगी पदोन्नति, 29 जून से नैनीताल में होगी काउंसलिंग प्रक्रिया


दूसरी ओर रविवार को जिला मुख्यालय से कुछ दूर मढ़धूरा क्षेत्र में भी एक गुलदार के अपने शावक के साथ सक्रियता दिखी है और उसका वीडियो भी सोशल मीडियाा पर वायरल हो रहा है। उल्लेखनीय है कि जिला मुख्यालय के पास पर्यटन स्थल चंडाक के धारा पानी में अपराह्न करीब 3:30 बजे खेत में के एक व्यक्ति पर गुलदार ने हमला कर दिया था। ललित मोहन जोशी उम्र 43 वर्ष पुत्र हरगोविंद जोशी पर जब गुलदार ने हमला किया तो खेत में ही मौजूद उनकी पत्नी ने दंराती से गुलदार पर वार किये। पलटवार होने और शोर-शराबा होने पर गुलदार ललित मोहन को घायल छोड़कर भाग गया।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल का ऐतिहासिक बैंड स्टैंड झील में समाने का डर, आवाजाही रोकी गयी...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments