मरीजों की संख्या बढ़ी, अब दून अस्पताल के गेट से ही लौटाए जा रहे कोरोना के मरीज

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

देहरादून।आईसीयू में बेड खाली न होने की वजह से गंभीर मरीजों को भी लेने से इंकार कर रहे हैं। डॉक्टर मरीजों की संख्या बढ़ने पर अब दून मेडिकल कोविड अस्पताल के गेट से ही कोरोना मरीजों को दूसरे अस्पतालों में जाने के लिए लौटाया जा रहा है। आईसीयू में बेड खाली न होने की वजह से गंभीर मरीजों को भी डॉक्टर लेने से इंकार कर रहे हैं। इससे कोरोना मरीजों की जान संकट में पड़ रही है। 
पिछले तीन दिन से जिले में रोजाना 200 से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। जिन्हें एम्स ऋषिकेश और राजकीय दून मेडिकल अस्पताल में ही ज्यादातर भर्ती किया जा रहा है। इसके अलावा कुछ दिन पहले कई निजी अस्पतालों को भी कोरोना मरीजों को भर्ती करने की अनुमति दी गई है। एम्स और दून अस्पताल की तरह ही निजी अस्पतालों में भी जनरल और आईसीयू के बेड लगभग फुल हो गए हैं।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल: जीआईसी और जीजीआईसी के छात्र-छात्राएं पढ़ेंगे एक साथ, जानिए वजह...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments