नैनीताल: नगर को चमकाने को डीएम ने चुने अधिकारी, खुद के कार्यालय के बाहर नहीं सफाई…

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

डीएम कार्यालय के मुख्य गेट पर लगा कूड़े का ढेर

नैनीताल। जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने नैनीताल नगर में विभिन्न स्थानों पर साफ सफाई के लिए बीते सोमवार को सरोवर नगरी को 13 सेक्टरों में बांटा है। वहीं इन सेक्टरों में सफाई-व्यवस्था की जिम्मेदारी के लिए सेक्टर अधिकारी नामित किये हैं। जिससे नैनीताल साफ-सुथरा रहे, साथ ही स्थानीय लोग गंदगी के संबंध में संबंधित अधिकारियों से संपर्क कर सकें। लेकिन जिलाधिकारी कार्यालय के बाहर खुद गंदगी का अंबार लगा है। जिससे स्वच्छ नैनीताल के लिए तैयार किये गए इस प्लान पर सवाल उठ रहे हैं।

यह भी पढ़ें -   पांच वक्त की नमाज पढ़ने वाले नासिर और अनवर भी राम के आदर्शों को मानते हैं प्रेरणा...

जहां जिलाधिकारी ने नगर की जनता से अपील की है कि यदि क्षेत्र में गंदगी है और साफ-सफाई ठीक तुमसे नहीं हो रही है तो वह इस संबंध में सम्बन्धित सेक्टर अधिकारी को सूचित करें। तो वहीं उनके खुद के कार्यालय के बाहर फैली गंदगी पर उनके चयनित अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं।


जिला मुख्यालय डीएम कार्यालय के मुख्य गेट पर बीते कई दिनों से कूड़े का ढेर लगा हुआ है। साथ ही यहां बंदरों व कुत्तों का जमावड़ा लगा रहता है। जिससे आने जाने वाले लोगों में बंदरो व कुत्तों का भय बना रहता है। स्थानीय युवक अरुण कुमार ने बताया कि लगभग हर रोज यहां पर खुले में कूड़ा फैला रहता है। कूड़े के ढेर पर कुत्तों व बंदरों का जमावड़ा लगा रहता है। जिससे स्कूल से आने जाने वाले बच्चों व स्थानीय लोगों में भी डर बना रहता है।

यह भी पढ़ें -   चमोली के इस इलाके में रावण को माना जाता है पूजनीय, आज भी रामलीला मंचन की शुरुआत रावण के तप से ही होती है…

उनका कहना है कि नगर के कई स्थानों पर कूड़ेदान होने के बावजूद खुले में कूड़े के ढेर लगे हुए हैं और लगातार हो रही बारिश के चलते कूड़ा कीचड़ में तब्दील हो चुका है। जिससे आसपास गंदनी फैलने से स्थानीय लोगों को आवाजाही करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments