नैनीताल में अधिवक्ताओं ने अनिश्चितकालीन तक एसडीएम कोर्ट के बहिष्कार का किया ऐलान, ये है वजह…

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

नैनीताल। जिला बार के अधिवक्ताओं ने बुधवार को एसडीएम राहुल साह के खिलाफ मोर्चा खोला। इस मौके पर जिला कोर्ट नैनीताल में जमकर नारेबाजी की गई। आरोप है कि एसडीएम द्वारा जिला कोर्ट के एक अधिवक्ता के जमीनी मामले में भवाली के एक व्यक्ति को संरक्षण देकर उसे लाभ पहुंचाया जा रहा है। इसे लेकर अधिवक्ताओं ने जिला बार सभागार में आपात बैठक बुलाई, जिसमें उन्होंने अनिश्चितकालीन तक एसडीएम कोर्ट के बहिष्कार का ऐलान किया। साथ ही इस संबंध में कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत को भी शिकायती पत्र सौंपा।

यह भी पढ़ें -   कनालीछीना में शराब के नशे में धुत पुलिसकर्मी का वीडियो वायरल, स्थानीय लोगों ने महिला से छेड़छाड़ का लगाया आरोप...(वीडियो)

इस मौके पर अधिवक्ताओं ने बताया कि जिला बार के प्रेस सचिव व भवाली निवासी शिवांशु जोशी का एक भूमि संबंधी वाद सिविल जज प्रवर खंड के न्यायालय में चल रहा है। जिसमें भवाली के ही एक रसूखदार खजान चन्द्र भट्ट ने विवादित भूमि की पैमाइश न करने पर आत्मदाह की धमकी दी थी, जिसके बाद एसडीएम द्वारा इस मामले में हस्तक्षेप कर व्यक्ति विशेष का पक्ष लिया गया, जबकि यह मामला अभी विचाराधीन है। कहा कि भट्ट द्वारा लगातार धमकी भी दी जा रही है। अधिवक्ताओं ने बिना न्यायालय व न्यायिक व प्रक्रिया के कोई भी आदेश देने पर उनकी कोर्ट का अनिश्चितकालीन बहिष्कार का निर्णय लिया। इस मामले में कुमाऊं आयुक्त को ज्ञापन सौंपा। साथ ही खजान भट्ट द्वारा कई जगह सरकारी भूमि पर अवैध निर्माण का आरोप लगाते हुए उसकी निष्पक्ष जांच की मांग की।

यह भी पढ़ें -   कुमाऊँ मंडल विकास निगम के 32 कर्मियों की हुई पदोन्नति

इस दौरान जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नीरज साह, सचिव दीपक रुबाली, हरिशंकर कंसल, बीसी पाल, मनीष जोशी, संजय सुयाल, राजेंद्र कुमार पाठक, तरुण चंद्रा, ओमकार गोस्वामी, शरद साह, एमबी सिंह आदि मौजूद रहे।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments