पहले फेसबुक पर दोस्ती ,फिर फ़ोटो को गलत तरीके से एडिट कर संबंध बनाने को करता था ब्लैकमेल,अब ऐसे आया पुलिस के हाथ ।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

लड़कियों की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उन को ब्लैकमेल करने वाले एक आरोपी को चम्पावत पुलिस को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है आरोपी को पुलिस ने हरियाणा से गिरफ्तार किया है दरअसल रीठा साहिब थाना क्षेत्र की एक युवती ने पुलिस को प्रार्थना पत्र देकर बताया था कि उसकी फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर आपत्तिजनक पोस्ट प्रसारित करने की धमकी दी जा रही है जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में कार्यवाही करते हुए खुलासा किया।

यह भी पढ़ें -   यहां दो चचेरी बहनों ने संदिग्ध परिस्थितियों में जहरीला पदार्थ गटका, हुई मौत ।

युवती द्वारा दिए पत्र के आधार पर 17 जनवरी को पुलिस ने 504 506 509 और धारा 66 आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया था जिसके बाद एसपी लोकेश्वर सिंह ने चंपावत के कोतवाल धीरेंद्र कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन कर खुलासा करने के निर्देश दिए थे।

जिसको लेकर चंपावत पुलिस के साइबर सेल ने सराहनीय कार्य करते हुए फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर महिलाओं को ब्लैकमेल करने वाले अभियुक्त की पहचान दीपक सिंह पुत्र भूपाल सिंह गांव बशौटा, थाना पाटी जनपद चंपावत के रूप में हुई।

यह भी पढ़ें -   यहाँ होटल में छापेमारी के दौरान कॉलगर्ल के साथ इस हाल में मिला सभासद और उसका दोस्त,

जिसके बारे में पुलिस ने जानकारी इकट्ठा की तो पता चला कि वह वर्तमान में हरियाणा में नौकरी कर रहा है जिसके बाद पुलिस टीम उसकी गिरफ्तारी के लिए हरियाणा भेजी गई ।

पुलिस ने आरोपी को हरियाणा के होटल से गिरफ्तार किया, पूछताछ में आरोपी ने कई चौकाने वाले खुलासे किए ।

आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह रीठा साहिब व अन्य क्षेत्र की लड़कियों और महिलाओं को लड़की की ही फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजता था जिसके बाद उसकी रिक्वेस्ट स्वीकार करने पर वह फेसबुक और व्हाट्सएप के माध्यम से उनकी फोटो को डाउनलोड कर फोटो एडिट कर सोशल मीडिया में गलत तरीके से वायरल करने की धमकी देकर उनसे संबंध बनाने के लिए ब्लैकमेल करता था यही नहीं यह शातिर आरोपी अब तक 30 से 35 महिलाओं लड़कियों को ब्लैकमेल कर चुका है ।

यह भी पढ़ें -   28 फरवरी को हल्द्वानी में होगा "द वॉइस ऑफ हिल" सिंगिग रियलिटी शो का ग्रांड फिनाले,पूरे देशभर में होगा लाइव प्रसारण।
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments