मुख्यमंत्री नहीं संभाल सकते स्वास्थ्य महकमा तो इस्तीफा दें: इंदिरा ह्रदयेश कांग्रेस ने स्वास्थ्य विभाग में सुधार की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

हल्द्वानी। उत्तराखंड विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश ने प्रदेश में कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग पर पूरी तरह लापरवाह होने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि जब मुख्यमंत्री स्वास्थ्य महकमा नहीं संभाल पा रहे हैं तो उन्हें इस्तीफा देकर बाहर आ जाना चाहिए।
कोरोना काल में राज्य में बिगड़ती स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हरदेश ने हल्द्वानी के बुध पार्क में एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम रखकर धरना प्रदर्शन किया। राज्य में बदहाल हो रही स्वास्थ्य व्यवस्था को संभालने का जिम्मा स्वयं मुख्यमंत्री के पास है क्योंकि स्वास्थ्य विभाग मुख्यमंत्री खुद देख रहे हैं लिहाजा इंदिरा ह्रदयेश ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री से स्वास्थ्य महकमा नहीं संभल रहा है तो गद्दी छोड़ कर जाएं क्योंकि सरकार की नाकामी का खामियाजा आम गरीब लोगों को अपनी जान देकर भुगतना पड़ रहा है कुमाऊ का सबसे बड़ा सुशीला तिवारी अस्पताल जिसे पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी ने बेहतर स्वास्थ्य के सपने के साथ बनाया था आज उस अस्पताल में जाने से लोग डर रहे हैं हालात इतने बदले बदतर हैं कि अस्पतालों में सफाई कर्मचारी तक नहीं कोरोना संक्रमण के इस दौर में मरीजों को उचित उपचार तो दूर की बात उचित व्यवहार तक नहीं हो रहा है।

यह भी पढ़ें -   covid update :- 463 कोरोना पॉजिटिव ,695 मरीजों ने स्वस्थ होकर कोरोना को दी मात

इंदिरा हृदयेश ने कहा कि यह राज्य सरकार प्रदेश की जनता को बेहतर स्वास्थ्य देने में पूरी तरह से विफल और नाकाम रही है लिहाजा आज सांकेतिक रूप से कांग्रेस ने यह प्रदर्शन किया है आगे और उग्र आंदोलन किए जाएंगे। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपा को कोरोना महामारी से कोई लेना नहीं है। वह तो नाराज विधायकों को खुश करने में व्यस्त हैं । पाटीॅ में नेताओं की कमी हो रबी है। इसलिए कुंवर प्रणव सिंह चैपिंयन का फूल माला से स्वागत किया गया । भाजपा में दुबारा शामिल होते ही फिर चैम्पियन ने हरिद्वार में अपने क्षेत्र में पहुंच कर हथियारों के साथ प्रदर्शन किया। धरने पर जिला अध्यक्ष सतीश नैनवाल, महानगर अध्यक्ष राहुल छिम्वाल समेत कई पदाधिकारी बैठे।

यह भी पढ़ें -   बड़ी खबर :- राज्य के सभी महाविद्यालय में 19 जून तक बढ़ाया गया ग्रीष्मकालीन अवकाश ।
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments