सीबीएसई ने हाई स्कूल और इंटर के लिए बड़ा फैसला , परीक्षाओं को बनाया और भी आसान

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कक्षा 10वीं और 12वीं 2021-22 सत्र के टर्म-1 परीक्षा के लिए सैंपल पेपर और मार्किंग स्कीम जारी कर दी है। टर्म-1 की परीक्षाएं नवंबर-दिसंबर में आयोजित की जाएंगी। छात्र बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट से सैंपल पर डाउनलोड कर परीक्षा तैयारी कर सकते हैं।सीबीएसई के क्षेत्रीय अधिकारी रणबीर सिंह ने बताया कि इन सैंपल पेपर की मदद से छात्रों को परीक्षा में आने वाले सवालों के प्रकार और उनकी मार्किंग स्कीम के बारे में जानकारी मिलेगी। जो उनकी बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी में काफी मदद करेंगे।टर्म-1 बोर्ड के लिए प्रश्नों और मार्किंग स्कीम को समझने का फायदा बोर्ड परीक्षा में होगा। छात्रों को सवालों के जवाब देने के लिए 90 मिनट का समय दिया जाएगा। परीक्षा में पाठ्यक्रम के 50 फीसदी हिस्से से प्रश्न पूछे जाएंगे। साथ ही थ्योरी पेपर के 50 फीसदीअंक भी होंगे।अब दो भागों में होगा पेपर
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के नए शैक्षणिक सत्र 2021-22 में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा को दो भागों में कराने का फैसला लिया है। इसका मतलब यह कि अर्धवार्षिक परीक्षा भी बोर्ड की देखरेख में आयोजित की जाएगी। ऐसे में छात्रों की सहूलियत को ध्यान में रखते हुए बोर्ड ने परीक्षा पैटर्न में बदलाव किए हैं। इसमें परीक्षा समय समेत कई बिंदुओं पर बदलाव किए गए हैं। वहीं, स्कूल भी बच्चों को नए पैर्टन के हिसाब से तैयारी करा रहे हैं।सीबीएसई के नए परीक्षा पैटर्न के टर्म वन परीक्षा में बहुविकल्पीय यानी एमसीक्यू आधारित सवाल पूछे जाएंगे। वहीं, मासिक परीक्षाओं का पैटर्न भी इसे ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। इसके अलावा टर्म टू परीक्षा पुराने पैटर्न पर ही होगी, लेकिन इस बार तीन घंटे के समय के बजाय दो घंटे का ही समय परीक्षा के लिए दिया जाएगा। इसके बाद दोनों टर्म परीक्षाओं से 50-50 फीसदी अंक दिए जाने हैं।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड में काम को टालने वाले और “नो” कहने वाले अफसरों को ले लेना चाहिए रिटायरमेंट
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments