चम्पावत: व्यापारी का पुत्र आया झांसे में, साइबर ठगों ने उड़ाए 1.10 लाख रुपये

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

चम्पावत। साइबर ठगों ने लोहाघाट के एक व्यापारी के पुत्र को झांसे में लेकर बैंक खाते से एक लाख 10 हजार रुपया उड़ा लिए हैं। ठगी का शिकार हुए व्यक्ति ने पुलिस को तहरीर दी है। साइबर ठगों ने व्यापारी पुत्री का मोबाइल हैक करने के बाद इस घटना का अंजाम दिया। व्यापारी राकेश मुरारी के पुत्र पार्थ ने बीते दिनों ऑनलाइन कंपनी से कुछ सामान मंगवाया था। पसंद न आने पर पार्थ ने सामान वापस कर रुपया मंगवाने के लिए कंपनी की वेबसाइट में नंबर सर्च न करके किसी ब्राउजर में कंपनी का नंबर सर्च किया। जिसमें उसे किसी साइबर ठग से वास्ता पड़ गया।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल में भारतीय ओलंपिक संघ के महासचिव राजीव मेहता के अवैध निर्माण को प्राधिकरण ने किया सील

व्यापारी ने राकेश ने बताया कि अज्ञात कॉलर का फोन उनके पुत्र पार्थ मुरारी ने रिसीव किया। फोन पर अज्ञात कॉलर ने दो एप डाउनलोड करने को कहा। ऐप डाउनलोड करने के तुरंत बाद ही साइबर ठग ने फोन हैक करते ही उनके एसबीआई के खाते से अलग-अलग समय में एक लाख दस हजार रुपया निकाल लिया। रुपया निकालते समय वह पार्थ से बातें भी करता रहा। ठगी का अहसास होने पर पुलिस में तुरंत तहरीर दी। व्यापारी ने कहा कि उनको पुलिस के ऊपर भरोसा है कि वह ठगी करने वाले का पर्दाफाश करेंगे। एसओ मनीष खत्री ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। एसओ ने बताया कि ठगों को जल्द ही गिरफ्तार कर व्यापारी को पूरे रुपये लौटाए जाएंगे। पुलिस ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है।

यह भी पढ़ें -   चोपड़ा के वचनढूंगा में वायरक्रेट से प्लेटफार्म बनाने का कार्य अटका, पैसे तो मिल गए लेकिन नहीं मिल रहे ठेकेदार...
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments