उत्तराखंड: पत्नी के चालचलन पर था शक, जंगल में ले जाकर घोंट डाला गला…300 से अधिक CCTV खंगालने पर खुला राज।

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

एक महिला की हत्या उसी के पति ने कर डाली। पति को उसके चाल चलन पर शक था। इसलिए उसने लकड़ी बीनने के बहाने जंगल में ले जाकर उसके हत्या की थी। पुलिस ने जद्दोजहद के बाद आरोपित पति को गिरफ्तार करते हुए ब्लाइंड मर्डर केस की गुत्थी को सुलझा लिया।

हरिद्वार के शहर कोतवाली क्षेत्र का यह मामला है। जिला पुलिस कार्यालय पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल ने बताया कि 29 सितंबर को हिल बाईपास रोड रबर फैक्ट्री के सामने जंगल में एक महिला का शव अर्धनग्न अवस्था में मिला था।

प्रथम दृष्ट्या महिला को उसी के पहने कपड़े व नाड़े से गला घोंट कर मारा गया था। महिला की शिनाख्त नहीं हो पाई थी। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या की बात सामने आने पर पुलिस की ओर से अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया था।

लगभग 300 से अधिक सीसीटीवी कैमरे फुटेज चेक किए गए। करीब 500 से अधिक लोगों से पूछताछ करते हुए 400 से अधिक संदिग्ध मोबाइल नंबरो की कॉल डिटेल निकालकर गहनतापूर्वक उनका अवलोकन किया। आखिरकार मृतक महिला के हुलिए से मिलती-जुलती एक महिला किसी कैमरे में हरकी पैड़ी क्षेत्र में एक पुरूष के साथ दिखाई दी।

महत्वपूर्ण सुराग पर आगे बढ़ते हुए पुलिस टीम ने करन उर्फ सागर निवासी बांदा उत्तर प्रदेश को रोड़ीबेलवाला के पास से गिरफ्तार लिया। पुलिस की पूछताछ में करन उर्फ सागर ने बताया कि महिला से उसकी दूसरी शादी थी। जबकि महिला उससे पहले भी इतनी शादियां कर चुकी थी। जिससे उसके हर एक-एक बच्चा था। पत्नी का चाल चलन पर उसे शक था और इसे सुधारने के लिए कई बार समझाने पर भी पत्नी के हरकतों से बाज न आने पर करन ने ये खौफनाक योजना तैयार की।

जिसके तहत 27 सितंबर को वह पत्नी को भरोसे पर जंगल में लकड़ी लेने बहाने पैदल पैदल हर की पैड़ी से इंडस्ट्रियल एरिया के नजदीक जंगल तक लाया और फिर पहले अपनी पत्नी का गला दबाया और उसके सलवार के नाडे से उसका गला घोंट दिया। मृतका के पहने कुर्ते से ही उसका मुंह बांध कर निर्मम हत्या कर दी। इसके बाद वापस हर की पैड़ी गया और आस-पड़ोस वालों को पत्नी के चोरी कर भागने की झूठी जानकारी देकर बच्चों सहित घटना के दिन अपने गांव के लिए निकल गया।

किसी को शक ना हो इसलिए सोमवार वह वापस हरिद्वार आ गया। लेकिन इससे पहले ही पुलिस सारे सुराग जुटाकर घात लगाए बैठे थी। पुलिस ने उसे दबोच लिया। एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल ने बताया कि आरोपी मूल रूप से बांदा उत्तर प्रदेश का निवासी है और काफी दिन से सुभाष घाट पर रह रहा था। एसएसपी ने बताया कि पुलिस टीम को ढाई हजार रुपये का इनाम भी दिया गया है।

Ad