आईपीएस पर लगे चौकी में बुलाकर युवक को पीटने के आरोप पुलिस मुख्यालय पहुंची शिकायत, एसपी सिटी करेंगी जांच

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

देहरादून। वरिष्ठ आईपीएस पीवीके प्रसाद पर एक युवक को पुलिस चौकी में बुलाकर बुरी तरह से पीटने का आरोप लगा है। आरोप है कि अधिकारी ने एक मामले को लेकर युवक के साथ हैवानियत की हदें पार कर दीं। पीड़ित परिवार के अनुसार इसमें चौकी का स्टाफ भी शामिल रहा। मामले की शिकायत उन्होंने पुलिस मुख्यालय में की है। जहां एसएसपी देहरादून को मामले की जाँच के आदेश दिए गए हैं।
अंगद अरोड़ा पुत्र अरविंदर अरोड़ा निवासी विजय पार्क ने डीजीपी उत्तराखंड से की शिकायत में बताया कि आईपीएस अधिकारी ने एक मामले विशेष को लेकर उसे फोन किया और मदद मांगी थी। इस पर अंगद ने पिता को साथ लाने की बात कही तो आईपीएस ने उसे अकेले आने को कहा। अंगद आईपीएस सोमवार की दोपहर दो बजे बिंदाल चौकी पहुंच गया।

यह भी पढ़ें -   यहाँ होटल में छापेमारी के दौरान कॉलगर्ल के साथ इस हाल में मिला सभासद और उसका दोस्त,


अंगद का आरोप है कि जैसे ही वह वहां पहुंचा आईपीएस अधिकारी ने उसे कई थप्पड़ जड़ दिए। इसके बाद उसे कपड़े उतारने को कहा। जब उसने कपड़े नहीं उतारे तो चौकी के चार पुलिसकर्मियों ने जबरन उसके कपड़े उतारे। इसके बाद पट्टे से उसकी कमर व कमर के निचले भाग पर लगातार वार कर उसकी पिटाई की गई। वह चिल्ला न सके इसके लिए उसका मुंह कपड़े से बंद कर दिया गया।
अंगद का आरोप है कि आईपीएस ने अपनी जेब से सिगरेट निकाली और उसे पीने के लिए कहा। उसके मना करने पर इसी सिगरेट को उसके हाथ से बुझा दिया। डीजी, कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया कि पुलिस चौकी में युवक से मारपीट के मामले की शिकायत पुलिस मुख्यालय में आई है। एसएसपी देहरादून को मामले की जांच करने के निर्देश दिए गए हैं।
वहीं डीआईजी/एसएसपी देहरादून अरुण मोहन जोशी ने बताया कि मामला मेरे संज्ञान में है। मामले की जांच एसपी सिटी श्वेता चौबे को दी गई है। जांच के बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें -   28 फरवरी को हल्द्वानी में होगा "द वॉइस ऑफ हिल" सिंगिग रियलिटी शो का ग्रांड फिनाले,पूरे देशभर में होगा लाइव प्रसारण।
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments