अल्मोड़ा :- युवती की धारदार हथियार से हत्या के बाद युवक ने भी गटक लिया जहर ,हुई मौत

ख़बर शेयर कर सपोर्ट करें

युवती की धारदार हथियार से हत्या के बाद युवक ने भी गटक लिया जहर ,हुई मौत अल्मोड़ा जिले के सोमेश्वर तहसील चनोदा में अंजली बोरा हत्याकांड में नया मोड़ आया है। बताया जा रहा है कि हत्याकांड के बाद युवक फरार हो गया। जिसके बाद युवक ने जंगल मे जाकर जहर गटक लिया। वारदात के बाद क्षेत्र में हड़कंप मच गया सोमेश्वर तहसील चनोदा में आज 19 वर्षीय युवती अंजलि बोरा की हत्या करने वाले युवक ने जंगल में जाकर विषाक्त पदार्थ खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की है। जिसमें युवक की पहचान दीपक सिंह भंडारी पुत्र मोहन सिंह भंडारी निवासी ग्राम बले, पोस्ट ढोनीगाड़, तहसील व थाना सोमेश्वर के तौर पर हुई है। आनन फानन में पुलिस ने युवक को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कौसानी में भर्ती कराया। जहां गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया है। देर रात उपचार के दौरान युवक की भी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें -   नैनीताल के कृष्णापुर निवासी लापता युवक का शव खाई में मिला...

मृतका के भाई की तहरीर पर देर रात पुलिस ने युवक के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कर लिया। मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा बताया जा रहा है। गुरुवार अपराह्न को ग्राम चनौदा निवासी अंजलि बोरा (19 ) पुत्री हरीश सिंह बोरा का घर में लहुलूहान हालत में शव पड़ा मिला। बताया जाता है युवती चनौदा में सड़क से लगे अपने तिमंजिले घर में अकेली थी। उसकी दादी बगल के कमरे में सो रही थी। क्षेत्र का एक युवक उससे मिलने आया, युवक ने चाकू से ताबड़तोड़ वार कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया। बाद अस्पताल में डॉक्टरों ने अंजली को मृत घोषित कर दिया। बाद में पता चला कि जो युवक युवती के घर आया था। वह स्कूटी से था। यह स्कूटी चनौदा- कौसानी मोटर मार्ग में 8 किलोमीटर दूर पच्चीसी- कांटली मोटर मार्ग में खड़ी मिली। बाद में इस युवक ने भी विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया। उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया। यहां पर उसकी भी मौत हो गई। थानाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह बिष्ट ने बताया की मृतका अंजलि के भाई की तहरीर पर दीपक सिंह भंडारी निवासी ढौनीगाढ़ (तहसील सोमेश्वर) के खिलाफ देर रात पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। उधर पुलिस ने बताया कि युवक की विषाक्त पदार्थ का सेवन करने के बाद मौत होने की सूचना मिल रही है।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड में काम को टालने वाले और “नो” कहने वाले अफसरों को ले लेना चाहिए रिटायरमेंट
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments